सराहनीय : राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन निदेशक डॉ सरोज नैथानी बनी नि:क्षय मित्र, टी.बी. रोगी को लिया गोद

0
112

क्रांति मिशन ब्यूरो

देहरादून। प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान के अंतर्गत राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एन.एच.एम.) निदेशक डॉ. सरोज नैथानी द्वारा टीबी रोग से ग्रसित कुमारी आंचल का नि:क्षय मित्र बनकर गोद लिया गया। इस मौके पर डॉ. नैथानी ने 15 वर्षीय आंचल के देहरादून निवास में जाकर पोषण किट भी प्रदान की।

डॉ. नैथानी ने बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत संचालित राष्ट्रीय क्षय: उन्मूलन कार्यक्रम (एन.टी.ई.पी.) टीबी मुक्त भारत अभियान के निर्धारित लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए स्वास्थ्य विभाग सभी स्तर पर लगातार प्रयासरत है। स्वास्थ्य विभाग प्रदेश में टीबी रोग के प्रति भेदभाव को कम करने व टीबी रोग उन्मूलन के लिए समाज को जोड़ने का कार्य कर रहा है। जनसहभागिता को बढ़ाने के लिए आम लोगों के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों, गैर सरकारी संगठनों, सामाजिक संस्थानों व कॉर्पोरेट आदि को भी नि:क्षय मित्र अभियान से जोड़ा जा रहा है।

नि:क्षय मित्र के रुप में डॉ. नैथानी द्वारा टीबी रोगी को पोषण के अलावा शिक्षा एवं जीवन के समस्त पहलुओं में पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया। डॉ. नैथानी द्वारा उठाया गया यह कदम अन्य नि:क्षय मित्रों के लिए मिसाल का कार्य करेगा। मौके पर उपस्थित रोगी के परिजन व आस-पड़ोस के लोगों ने डॉ. नैथानी का आभार जताया।

इस मौके पर राज्य नोडल अधिकारी क्षय: रोग डॉ. पकंज सिंह, आई.ई.सी. अधिकारी क्षय: रोग अनिल सती, टीबी सुपरवाइजर बृहस्पति कोठियाल, आशा कार्यकत्री जमुना पंत व अन्य लोग मौजूद रहे।