Big News : कप्तान अजय सिंह के शानदार नेतृत्व में दून पुलिस ने ब्लाइंड मर्डर मिस्ट्री की गुत्थी को सुलझाया

0
24
  • ब्लाइंड मर्डर मिस्ट्री का शानदार खुलासा कर लोगों के विश्वास पर खरी उतरी दून पुलिस
  • सेलाकुई क्षेत्र में आसन नदी के किनारे शमशान घाट के पास संदिग्ध परिस्थितियों में मिला था युवक का शव
  • शुरू से ही मृत्यु को संदिग्ध मान तत्परता से जांच कर पुलिस ने जोड़ी घटना से जुड़ी हर कड़ी, तो खुलती गयी षड्यंत्र की हर परत
  • नदी किनारे बस्ती में चोरी की नीयत से घुसे मृतक युवक की बस्ती में रहने वाले लोगों द्वारा डंडों से पीट कर हुई थी युवक की मृत्यु
  • घटना के बाद युवक के शव को आसन नदी शमशान घाट के पास दिया था छोड़
  • मृतक युवक था आदतन चोर, जिसके विरुद्ध दर्ज थे चोरी व अन्य आपराधिक घटनाओं के अभियोग, घटना से 02 दिन पहले ही चोरी के मामले में जेल से छूटकर आया था बाहर
  • पोस्टमार्टम मैं युवक के शरीर पर चोटों के निशान से प्रथमदृष्टया मृत्यु संदिग्ध प्रतीत हो रही थी, पुलिस टीम द्वारा घटना के हर पहलू पर विस्तृत जांच की गई, जिससे घटना का सफल अनावरण करते हुए घटना में शामिल अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया : एसएसपी

क्रांति मिशन ब्यूरो

देहरादून। ब्लाइंड मर्डर मिस्ट्री का शानदार खुलासा कर लोगों के विश्वास पर खरी उतरी दून पुलिस। कप्तान अजय सिंह के शानदार नेतृत्व में दून पुलिस ने ब्लाइंड मर्डर मिस्ट्री की गुत्थी को सुलझाया। सेलाकुई क्षेत्र में आसन नदी के किनारे शमशान घाट के पास संदिग्ध परिस्थितियों में मिला था युवक का शव। शुरू से ही मृत्यु को संदिग्ध मान तत्परता से जांच कर पुलिस ने जोड़ी घटना से जुड़ी हर कड़ी, तो खुलती गयी षड्यंत्र की हर परत। नदी किनारे बस्ती में चोरी की नीयत से घुसे मृतक युवक की बस्ती में रहने वाले लोगों द्वारा डंडों से पीट कर हुई थी युवक की मृत्यु।

घटना के बाद युवक के शव को आसन नदी शमशान घाट के पास दिया था छोड़। मृतक युवक था आदतन चोर, जिसके विरुद्ध दर्ज थे चोरी व अन्य आपराधिक घटनाओं के अभियोग, घटना से 02 दिन पहले ही चोरी के मामले में जेल से छूटकर आया था बाहर। एसएसपी अजय सिंह ने बताया पोस्टमार्टम मैं युवक के शरीर पर चोटों के निशान से प्रथमदृष्टया मृत्यु संदिग्ध प्रतीत हो रही थी, पुलिस टीम द्वारा घटना के हर पहलू पर विस्तृत जांच की गई, जिससे घटना का सफल अनावरण करते हुए घटना में शामिल अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया।

घटनाक्रम जानें … दिनांक 21 जनवरी 2024 को थाना सेलाकुई को टेलीफोन के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई की आसन नदी शमशान घाट के पीछे एक व्यक्ति मृत अवस्था में पड़ा है, सूचना पर तत्काल सेलाकुई पुलिस मौके पर पहुंची तथा मृतक के विषय में जानकारी करने पर मृतक की पहचान इमरान पुत्र शब्बीर निवासी हसनपुर थाना सहसपुर के रूप में हुई। मृतक के शव को कब्जे में लेकर पंचायतनामा कि कार्यवाही कर पोस्टमॉर्टम हेतु भेजा गया। पोस्टमार्टम मैं युवक के सर पर आई चोटों को देखकर उक्त घटना संदिग्ध प्रतीत हो रही थी।

घटना की संदिग्धता के दृष्टिगत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून अजय सिंह द्वारा थानाध्यक्ष सेलाकुई को घटना की विस्तृत जांच कर सत्यता का पता लगाने हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। आदेशों के क्रम में थानाध्यक्ष सेलाकुई द्वारा घटना के अनावरण हेतु पुलिस टीम का गठन किया गया।

पुलिस टीम द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण कर मृतक के परिजनों व आस-पास के लोगो से पूछताछ की गई तो मृतक इमरान का पूर्व में चोरी तथा अन्य अपराधों में जेल जाने तथा घटना से दो दिन पूर्व ही जेल से बाहर आने के संबंध में पुलिस टीम को जानकारी प्राप्त हुई। जिस पर स्थानीय मुखबिर तंत्र को सक्रिय कर घटना के सम्बंध में जानकारी एकत्रित की गई तो पुलिस टीम को घटना की रात्रि ईदगाह के पास वाली बस्ती में रहने वाले एक व्यक्ति साजिद के घर के पास कुछ व्यक्तियों द्वारा किसी के साथ मारपीट किए जाने के संबंध में जानकारी प्राप्त हुई।

मारपीट होने संबंधी तथ्य प्रकाश में आने तथा संदिग्धता प्रतीत होने पर पुलिस द्वारा साजिद पुत्र शौकत को पूछताछ हेतु हिरासत में लेकर उससे सख्ती से पूछताछ की गई साजिद द्वारा घटना की रात्रि मृतक इमरान का चोरी की नीयत से उसके घर मे घुसने तथा पकड़े जाने पर अभियुक्त साजिद द्वारा अपने पुत्र उमर, जावेद तथा कॉलोनी निवासी सहबान के साथ मिलकर इमरान उपरोक्त के साथ मारपीट करने तथा मारपीट से इमरान की मृत्यु होने के बाद उसके शव को नदी के किनारे पिलर के पास रखने की बात स्वीकार की गई।

जांच में मृतक इमरान के साथ हुई मारपीट से उसकी मृत्यु होने तथा घटना के बाद अभियुक्तों द्वारा शव को आसन नदी के किनारे छोड़ने की बात प्रकाश में आने पर जांचकर्ता उ0नि0 अमित कुमार द्वारा थाना सेलाकुई पर घटना के संबंध में दी गयी तहरीर के आधार पर अभियुक्तों के विरुद्ध मु0अ0सँ0 – 35/24 धारा 304/201/120 बी भादवि का अभियोग पंजीकृत करते हुए अभियुक्त साजिद को मौके से गिरफ्तार किया गया, जिसकी निशानदेही पर घटनास्थल के पास से घटना में इस्तेमाल किया गया आलाक़त्ल डंडे बरामद किये गए।

अभियुक्त से पूछताछ के आधार पर घटना में प्रकाश में आए 02 अन्य अभियुक्त शहबान तथा जावेद को पुलिस द्वारा आसन नदी के किनारे बस्ती से गिरफ्तार किया गया, घटना में शामिल अन्य अभियुक्तों की तलाश की जा रही है।

विवरण पूछताछ

पूछताछ में अभियुक्त साजिद द्वारा बताया गया कि वह गाड़ी चलने का कार्य करता है, दिनांक: 20-01-24 को मृतक इमरान रात्रि करीब 01:30 बजे चोरी करने की नीयत से उसके घर में घुसा था, अचानक उसके जागने पर इमरान नदी की तरफ भाग गया, जिसे अभियुक्त साजिद द्वारा अपने पुत्र उमर के साथ पकड़ कर वापस बस्ती में लाया गया। बस्ती में शोर शराबा सुनकर बस्ती में रहने वाले अन्य लोग 1- आमिर 2- सहबान  3- रीना पत्नी सहबान 4- जावेद पुत्र शौकत 5- गोविंद 6- शमशाद मुल्ला जी मौके पर आए तथा 1- साजिद 2- जावेद 3- सहबान 4- उमर के द्वारा मृतक इमरान साथ लाठी डंडों से मारपीट की गई, जिससे मृतक इमरान की मौके पर मौत हो गई, तब अभियुक्तों द्वारा साक्ष्य छुपाने की नीयत से मृतक के शव को साजिद के घर के सामने से आसन नदी की ओर नदी के किनारे पिलर से लगाकर रख दिया और मौके से फरार हो गए।

घटना के समय मौके पर मौजूद अन्य लोगों को अभियुक्तों द्वारा घटना के संबंध में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी गई धमकी दी गई थी, इसी डर के कारण किसी ने पुलिस को कोई सूचना नहीं दी।

गिरफ्तार अभियुक्त

1- साजिद निवासी पीठ वाली गली थाना सेलाकुई मूलनिवासी ग्राम चेहडी थाना रामपुर मनिहारान जनपद सहारनपुर उत्तर प्रदेश उम्र 48 वर्ष
2- जावेद निवासी उपरोक्त उम्र 20 वर्ष
3- सहबान निवासी पीठ वाली गली सेलाकुई उम्र 30 वर्ष

नाम पता वांछित अभियुक्त

1- उमर निवासी पीठ वाली गली सेलाकुई मूलनिवासी ग्राम चेहडी थाना रामपुर मनिहारान जनपद सहारनपुर उत्तर प्रदेश

2- आमिर निवासी पीठ वाली गली सेलाकुई

बरामदगी का विवरण

1- घटना में प्रयुक्त डंडे

पुलिस टीम

1- उ0नि0 शैंकी कुमार, थानाध्यक्ष सेलाकुई देहरादून ।
2- उ0नि0 अमित कुमार
3- उ0नि0 रतन सिंह बिष्ट( विवेचक)
4- कांस्टेबल बृजेश
5- कांस्टेबल मुकेश
6- कांस्टेबल सुधीर
7- कांस्टेबल उपेंद्र भंडारी