Big News : कृषि विभाग उत्तराखंड एवं ग्रामीण उद्यम वेग वृद्धि परियोजना के सहयोग से फार्म मशीनरी बैंक की स्थापना हुई

0
408
  • मुख्यमंत्री राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत फार्म मशीनरी बैंक में 10 लाख के कृषि यंत्र दिये गये
  • कुलदेवता स्वायत्त सहकारिता समूह द्वारा संचालित है फार्म मशीनरी बैंक

क्रांति मिशन ब्यूरो
देहरादून। जनपद देहरादून के विकास खंड रायपुर की न्याय पंचायत सरोना स्थित ग्राम सिमियारी में कृषि विभाग उत्तराखंड एवं ग्रामीण उद्यम वेग वृद्धि परियोजना (REAP) के सहयोग से फार्म मशीनरी बैंक की स्थापना की गई।

मुख्यमंत्री राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत कुलदेवता स्वायत्त सहकारिता समूह द्वारा संचालित किये जाने वाले इस फार्म मशीनरी बैंक में 10 लाख के कृषि यंत्र दिये गये। जिसमें खेतों की जुताई हेतु पावर वीडर, चारा काटने हेतु विद्युत चालित चैपकटर, घरेलू विद्युत कनेक्शन पर चलने वाली आटा चक्कियां, ब्रस कटर जिसका उपयोग झाडी काटने के अलावा, गेहूं व धान की फसल कटाई में भी किया जा सकता है। उक्त फार्म मशीनरी बैंक को कुलदेवता स्वयं सहायता समूह को सौंपने से पूर्व परियोजना निदेशक बंशीधर तिवारी द्वारा रीबन काटकर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। इस अवसर पर कृषि विभाग एवं परियोजना के अधिकारी उपस्थित थे। क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों ने एवं स्थानीय ग्रामीणों, स्वयं सहायता समूह के सदस्यों के साथ एक गोष्ठी भी आयोजित की गई। गोष्ठी की अध्यक्षता ग्राम प्रधान सिमियारी दीपक भट्ट द्वारा की गई। संचालन सहायक कृषि अधिकारी बीके धस्माना द्वारा किया गया।
कृषि एवं भूमि संरक्षण अधिकारी डा राजदेव पंवार ने अपने सम्बोधन में कहा कि इस वित्तीय वर्ष में 7 फार्म मशीनरी बैंक विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत स्थापित किये जा चुके हैं। मुख्यमंत्री कृषि विकास योजनान्तर्गत, रीप के साथ सहयोग से ये पहला फार्म मशीनरी बैंक है।