Big News : देहरादून जिले की सड़कों एवं फुटपाथों से अतिक्रमण हटाने के लिए सरकार सख्त, मुख्यमंत्री के निर्देश पर डीएम सोनिका ने 5 जोन बनाए

0
73
  • नगर निगम, पुलिस, प्रशासन की अलग-अलग संयुक्त टीम बनाकर प्रथम चरण में अतिक्रमण हटाए जाने की कार्यवाही की जा रही
  • देहरादून जिले में जल्द ही आपको राह चलने के लिए अतिक्रमणमुक्त फुटपाथ मिलेंगे

क्रांति मिशन ब्यूरो

देहरादून।  देहरादून जिले में जल्द ही आपको राह चलने के लिए अतिक्रमणमुक्त फुटपाथ मिलेंगे। यही नहीं अतिक्रमण जहां भी होगा उसे सख्ती से हटाया जाएगा।जिले की सड़कों एवं फुटपाथों से अतिक्रमण हटाने के लिए सरकार सख्त, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर डीएम सोनिका ने 5 जोन बनाए। जनपद में अतिक्रमण से बाधित सड़कों एवं फुटपाथों से अतिक्रमण हटाए जाने के लिये  जिलाधिकारी श्रीमती सोनिका के निर्देशन पर 5 जोन बनाए गए हैं। नगर निगम, पुलिस, प्रशासन की अलग-अलग संयुक्त टीम बनाकर प्रथम चरण में अतिक्रमण हटाए जाने की कार्यवाही की जा रही है।

प्रथम जोन मोहब्बेवाला से राजपुर रोड, द्वितीय जोन धूलकोट से कुआंवाला, तृतीय जोन ब्रह्मकमल चौक से आईटी पार्क, सहस्त्रधारा क्रॉसिंग से आईटी पार्क, चतुर्थ जोन ट्रांसपोर्ट नगर से गढ़ी कैंट व आईएसबीटी चौक से रिस्पना पुल, लाल पुल, कारगी चौक, शिमला बाईपास चौक से बड़ोवाला चौक तथा मोहब्बेवाला से राजपुर, पांचवा जोन छह नंबर पुलिया से एयरपोर्ट, महाराणा प्रताप चौक से मालदेवता तथा राजपुर से कुठाल गेट डाईवजन तक अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की गई।

प्रथम जोन में 17 स्थानों, द्वितीय जोन में 22 स्थानों, तृतीय जोन में 8 स्थानों, चतुर्थ जोन में 20 स्थानों तथा पांचवे जोन में 8 चिन्हित स्थानों से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की गई। पहले चरण में चिन्हित 75 स्थानों से अतिक्रमण हटाये जाने की कार्यवाही की गई।

जिलाधिकारी श्रीमती सोनिका ने अवगत कराया कि जनपद/शहर में अतिक्रमण के कारण यातायात बाधित होने की जो समस्या उत्पन्न हो रही है। उसको दृष्टिगत रखते हुए नगर निगम, यातायात पुलिस, जिला प्रशासन के संबंधित विभागों के अधिकारियों की संयुक्त 5 टीमें बनाई गई है, जिनके द्वारा चिन्हित स्थानों से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की जा रही है। बताया कि मुख्य सड़क, जंक्शन एवं फुटपाथों पर अतिक्रमण होने से यातायात बाधित रहने की शिकायतें प्राप्त होती है। जिसके लिए प्रथम चरण में इन्हीं स्थानों से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की गई है तथा आगे भी अतिक्रमण चिन्हित कर हटाने की कार्यवाही की जाएगी।