Big News… भारतीय मानक ब्यूरो की हल्द्वानी में कार्यशाला … मानक ब्यूरो की गतिविधियों, हालमार्क तथा आईएसआई मार्क के बारे में दी गई जानकारी

0
147
  • भारतीय मानक ब्यूरो द्वारा जिला उद्योग केन्द्र के सभागार हल्द्वानी में जिलास्तरीय विभागों के जिला प्रमुखों के लिए संवेदीकरण कार्यक्रम का आयोजन
  • नैनीताल जिले के 50 से अधिक जिला स्तरीय कार्यालयों के प्रमुखों ने भाग लिया
  •  वरिष्ठ निदेशक सुधीर बिश्नोई ने भारतीय मानक ब्यूरो की गतिविधियों के बारे में बताया 

क्रांति मिशन ब्यूरो

हल्द्वानी।  भारतीय मानक ब्यूरो द्वारा जिला उद्योग केन्द्र के सभागार हल्द्वानी में जिलास्तरीय विभागों के जिला प्रमुखों के लिए संवेदीकरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। जिसमें नैनीताल जिले के 50 से अधिक जिला स्तरीय कार्यालयों के प्रमुखों ने भाग लिया। वरिष्ठ निदेशक सुधीर बिश्नोई ने भारतीय मानक ब्यूरो की गतिविधियों के बारे में एवं हालमार्क तथा आईएसआई मार्क के बारे में बताया। साथ ही उन्होने भारतीय मानकों के अधिकाधिक प्रयोग पर जोर तथा सभी विभागों से निविदाओं में भारतीय मानकों का उल्लेख करने तथा आईएसआई मार्क प्रमाणित वस्तुओं की खरीदारी करने का अनुरोध किया। बीआईएस के आनलाइन प्लेटफार्म एवं आईएसआई केयर एप के बारे में बताया।

कार्यशाला में संयुक्त निदेशक श्याम कुमार ने बताया कि भारतीय मानक ब्यूरो भारत सरकार के उपभोक्ता मामले खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्रालय के अधीन कार्यरत एक स्वायत्तशासी निकाय है जो उत्पाद प्रमाणन योजना के अंतर्गत आईएसआई मार्क हॉलमार्किंग योजना के अंतर्गत हॉलमार्क एवं इसी प्रकार के अन्य प्रमाणन योजनाओं को संचालित करने वाला राष्ट्रीय मानक निकाय है। राष्ट्रीय मानक निकाय – भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) को भारत सरकार द्वारा मानकीकरण और प्रमाणन की इसकी मुख्य गतिविधियों के माध्यम से देश में एक मजबूत गुणवत्ता वाला परितंत्र बनाने का काम सौंपा गया है। उन्होंने कहा बीआईएस भारत का राष्ट्रीय मानक निकाय है, जिसकी स्थापना बीआईएस अधिनियम 2016 के तहत वस्तुओं के मानकीकरण, अंकन और गुणवत्ता प्रमाणन की गतिविधियों के सामंजस्यपूर्ण विकास और उससे जुड़े या प्रासंगिक मामलों के लिए की गई है।

श्याम कुमार ने कहा कि बीआइएस द्वारा स्कूलों में मानक क्लब गठित किये जा रहे है। स्कूलों में मानक क्लबों के माध्यम से, बीआईएस का उद्देश्य छात्र केंद्रित गतिविधियों के माध्यम से कक्षा 9वीं और उससे ऊपर के विज्ञान के छात्रों को गुणवत्ता और मानकीकरण की अवधारणाओं से अवगत कराना है। बीआईएस ने अब तक पूरे भारत में 4000 से अधिक मानक क्लबों की स्थापना की है, लक्ष्य को 2022-23 के अंत तक 10,000 क्लब गठित किये जाने है। उन्होंने बताया कि नैनीताल के प्रत्येक विद्यालय में भी स्टैण्डर्ड क्लब की स्थापना करना है, अतिथि तक जनपद के जीजीआईसी कोटाबाग व केंद्रीय विद्यालय भीमताल के विद्यालयों में मानक क्लब की स्थापना की जा चुकी है।

कार्यक्रम में भारतीय मानक ब्यूरो के वरिष्ठ निदेशक सुधीर बिश्नोई, संयुक्त निदेशक श्याम कुमार, जिला होम्योपैथिक अधिकारी डॉ मीरा ह्यांकी, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा रश्मि पंत, महाप्रबंधक जिला उद्योग कैलाश  पंत एवं नीरज बिष्ट, जिला प्रोबेशन अधिकारी व्योमा जैन के साथ ही सम्बन्धित अधिकारी कार्यक्रम में मौजूद थे।